सिवनी मालवा। एक और सरकार सभी गरीबो को आवास बांटने का काम कर रही है वही शासन के नुमाइंदे ही गरीबोँ को बरगलाने में लगे हुए है। ऐसा ही एक मामला सिवनी मालवा तहसील कार्यालय में देखने को मिला जहाँ ग्राम मालापाठ की दर्जनों महिलाए एसडीएम के पास शिकायत लेकर पहुंची। महिलाओ ने बताया की ग्राम सचिव के द्वारा उनका नाम पीएम आवास की सूची में से काट दिया गया एवं जब हमारे द्वारा शिकायत करने की बात कही गई तो जनपद में पदस्थ अधिकारियो के द्वारा कहा गया की आपका नाम 3 दिन मे सूची में जोड़ दिया जावेगा।

महिलाओ की समस्या सुन एसडीएम रविशंकर राय ने बताया की पीएम् आवास में किसी तरह की धोकाधड़ी किसी के द्वारा नहीं की जा सकती है। यदि किसी ग्रामीण को पूर्व में आवास की किसी योजना का लाभ मिल चुका है तो उसे पुन: आवास योजना का लाभ नहीं दिया जा सकता है। यदि किसी के द्वारा इस तरह कहा जा रहा है की पीएम आवास की सूची में नाम जोड़ दिया जावेगा तो उसके द्वारा सिर्फ ग्रामीणों को गुमराह किया जा रहा है।