राहुल डोड/देपालपुर। नगर के वार्ड नं 8 में रहने वाले छोटी किराने की दुकान चलाने वाले बशीर खां पिता गफ्फार खां ने निजी कंपनी से लोन लेने के लिए फॉर्म जमा किया तो पता चला कि बसीर खां पर पहले से ही 5 लाख 10 हजार रुपए का फर्जी लोन दिखाई दे रहा।

इसकी खबर लगते हैं बसीर खां ने पुलिस थाना देपालपुर में लिखित शिकायत दर्ज करवाई। बताया गया है कि 24 फरवरी 2014 को मेगमा फायनेंस कपंनी से 5 लाख 10 हजार रुपए का फर्जी लोन लिया गया है। जबकि बशीर ने पुलिस को बताया कि लोन में लिए गए सभी दस्तावेज मेरे है, मुझे नहीं पता कि वह लोन कैसे हुआ है। मेगमा फायनेंस कपंनी की एक शाखा इंदौर के बी ब्लॉक 5वी मंजिल मेट्रो टावर विजय नगर मंगल सिटी पर हैं।

वही पीड़ित युवक ने बताया की मैंने वहां जाकर जानकारी जुटा न चाही तो उन्होंने बिना कुछ जानकारी दीजिए मुझे रवाना कर दिया। मेरे पास लोन हुआ वो अकाउंट नंबर एम.ए.जी.एम. ए # पी.जी/0133/सी/12/000142 हैं. इसी अकाउंट से 5 लाख 10 हजार रुपए का लोन लिया गया है।