सिवनी मालवा। होशंगाबाद जिले की सिवनी मालवा तहसील मैं किसानों का जमकर शोषण बानापुरा कृषि उपज मंडी के आसपास सहित शहरी एव ग्रामीण क्षेत्र मैं खरीदी करने वाले अवैध गल्ला व्यापारी कर रहे है। जिन्हें मंडी प्रशासन की भी मौन सहमति है। जब भी मंडी प्रशासन से इन अवैध व्यापारियों पर कार्यवाही करने की मांग की जाती है। तो उन्हें मंडी से पहले ही सूचना मिल जाती है। और अवैध गल्ला व्यापारी अपनी दुकानें बंद कर लेते है।

ऐसा ही एक मामला उपनगरी बानापुरा में सामने आया जहाँ बानापुरा कृषि उपज मंडी के आसपास खुलेआम संचालित हो रही गल्ला दुकानो पर कई मकानों मैं भी गल्ला व्यापारी खरीदी करते नजर आए। वही बाकायदा वहां अनाज की ट्राली या ऑटो के अंदर जाने के बाद बाहर गेट मैं ताला लगा दिया जाता था। जैसे ही दो अवैध गल्ला व्यापारियों की दुकांनो पर मीडियाकर्मी पहुँचे और वीडियो बनाना शुरू किया, सभी अवेध गल्ला व्यापारियों ने अपनी दुकानो की शटर गिरा दी।

कृषि उपज मंडी से करोड़ों रूपये का राजस्व प्राप्त होता है परन्तु मंडी प्रबंधन की लापरवाही या यूं कहे की मंडी प्रबंधन की मिलीभगत के चलते लाखोँ रुपयों का राजस्व सरकार के खाते में ना जाते हुए मंडी कर्मचारियों की जेबें गर्म कर रहा है आखिर इसका जिम्मेदार कौन है?

देखें पूरा विडियो

https://www.youtube.com/watch?v=hY2XoHPu-Hw