दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार को दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। दक्षिण दिल्ली के पॉश इलाके वसंत कुंज (किसनगढ़) में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की चाकू मारकर हत्या कर दी गई, जबकि घटना में परिवार का ही एक व्यक्ति बुरी तरह से घायल हो गया है। उसे नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना सुबह तक़रीबन 5 बजे के आसपास की है। मरने वालों में मिथिलेश (45) उनकी पत्नी सिया और बेटी नेहा (16) है, जबकि मिथिलेश का बेटा घायल है।

यूपी का रहने वाला था परिवार
मिथिलेश के साले के मुताबिक, मिथिलेश के बेटे का कुछ महीने पहले अपहरण हुआ था। पेशे से कॉन्ट्रैक्टर मिथिलेश जिस बिल्डिंग में रहता था उममें 6 फ्लैट हैं, लेकिन पड़ोसियों को हादसे की भनक तक नहीं लगी।साले के मुताबिक, परिवार मूलरूप से कन्नौज का रहने वाला था। वहीं, ट्रिपल मर्डर को लेकर दिल्ली पुलिस फिलहाल कोई भी जानकारी देने से मना कर रही है।

पुलिस की माने तो, उसे दक्षिण दिल्ली के वसंतकुंज के किशनगढ़ इलाके में बुधवार सुबह एक ही परिवार के तीन लोगों की चाकू मारने की सूचना मिली थी। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्‍टरों ने तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया, जबकि एक गंभीर रूप से शख्स का इलाज चल रहा है। जान गंवाने वाले पति-पत्नी और उनकी बेटी है।

घर का दरवाजा खुला था
बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर सबसे पहले घरेलू सहायिका पहुंची। जानकारी के मुताबिक, बुधवार सुबह जब मृतक के घर पर काम करने वाली घरेलू सहायिका पहुंची तो उसने पाया कि घर का दरवाजा पहले से ही खुला हुआ था। घरेलू सहायिका घर का नजारा देखकर रह गई सन्न नौकरानी ने अंदर जा कर देखा तो पति-पत्नी औऱ उनकी बेटी का खून से सना हुआ शव फर्श पर पड़ा था, जबकि नजदीक ही दंपती का बेटा घायल पड़ा था। घरेलू सहायिका ने घटना की जानकारी आसपास के लोगों को देने के साथ पुलिस को दी।

बेरहमी से किया गया कत्ल
तीनों सदस्यों का कत्ल बड़ी बेरहमी से किया गया है, बताया जा रहा है कि तीनों मृतकों के शरीर पर चाकुओं के कई निशान हैं, जिससे जाहिर होता है कि उनका बेरहमी से कत्ल किया गया है। वहीं, घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच कर रही है।