चिरमिरी। एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र की एनसीपीएच कालरी की आर सिक्स खदान में गत दिनों भीषण आग लगने के कारण अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया। जिससे बंद करते ही लगभग 603 कर्मचारियों का स्थानांतरण होने का खतरा मंडराने लगा है। जबकि प्रबंधक अपनी जोरो शोरों से कोशिश में लगा हुआ है कि जल्द से जल्द आग में काबू पाकर खदान को यथावत चालू किया जा सके। जिसके लिए खदान की 24 घंटे विशेष रूसे नजर रखी जा रही है जबकि रेस को टीम इस आग को रोकने एवं आगे ना बढ़ने के लिए स्टॉपिंग आदि करवाने में लगी हुई है।

वही करोड़ों की मशीन जो उत्पादन कार्य में उपयोग में आती है वहां भी खदान के अंदर फसी हुई है जबकि प्रबंधक ने पैनल नंबर 42 को सील कर दिया है, और कोई भी कामगार को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से देखते हुए विशेष ध्यान दिया जा रहा है प्रबंधक का कहना है कि जल्द से जल्द आग पर काबू पा लिया जाएगा। इसलिए कामगारों को हताश होने की कोई जरूरत नहीं है। किसी का भी स्थानांतरण नहीं किया जाएगा उन्हें आर सिक्स खदान की महेश इंक लाइन में लगाया जाएगा। सभी कामगारों को जल्द से जल्द चालू करने के लिए महेश इंक लाइन में लगाया जा रहा है। चिरमिरी कोला खान क्षेत्र के महाप्रबंधक के श्यामल एवं उप क्षेत्रीय प्रबंधक त्रिपाठी एवं खान सुरक्षा अधिकारी यूएस के दाम व वेंटीलेशन अफसर बसंत कुमार द्वारा विशेष रूप से खान की निगरानी की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं जिसकी मॉनिटरिंग की पल पल की खबर क्षेत्रीय प्रबंधक एवं महाप्रबंधक ले रहे हैं।