जितेन्द्र गुजरे/टिमरनी। हरदा जिले की टिमरनी तहसील मे कलेक्टर के आदेश पर टिमरनी एसडीएम हरिसिंह चौधरी,तहसीलदार अलका इक्का ने कृषि उपज मंडी में स्थित शासकीय खाद विक्रय गोडाउन का निरीक्षण कर डीएपी व यूरिया स्टॉक की जांच की। साथ ही निजी खाद विक्रय दुकानों के लाइसेंसों, खाद स्टाको का निरीक्षण किया।

एसडीएम हरीसिंह चौधरी ने बताया कि सहकारी समितियों द्वारा इफको को ड्राफ्ट,पेमेंट नही किया जा रहा है इस कारण कृषको के लिए शासन ने व्यवस्था की है कि कृषक नगद भुगतान कर शासकीय खाद गोडाउन विक्रय केंद्र से डीएपी यूरिया क्रय कर सकते है।साथ ही निजी खाद दुकानों से भी खरीद सकते है। वहाँ भी निर्धारित मूल्य पर ही दी जाएगी।बाजार सहित शासकीय स्तर पर भी डीएपी यूरिया की मांग अनुरूप उपलब्धता मौजूद है,कृषको को खाद की कमी नही होने दी जाएगी पाएगी।

ज्ञात हो कि भारतीय किसान संघ द्वारा खाद यूरिया की उपलब्धता समय पर करने की मांग पूर्व में की गई थी।नगर की आधा दर्जन के लगभग निजी खाद दुकानों का निरीक्षण अधिकारियों द्वारा कीया गया है। वही कृषको का कहना है कि मंडी व्यापारियों द्वारा किया जा रहा 10 हजार नगद भुगतान को बढ़ाकर 25 हजार रुपये किया जावे, जिससे किसान उस राशि से नगद कृषि सम्बंधित सामान समय से खरीद सके।

निरीक्षण के दौरान इंजार्च आरएस वर्मा ने बताया कि शासकीय खाद वेयर हाउस गोडाउन में 264 टन डीएपी व 107टन यूरिया विक्रय के लिए अभी उपलब्ध है मांग बढ़ने पर तुरन्त उपलब्ध ओर भी कराया जाएगा।जांच निरीक्षण के दौरान प्रभारी कृषि विस्तार अधिकारी राजेन्द्र सिंह राजपूत,ग्राम सेवक गिरीश मालवीय,नायब तहसीलदार द्वय शंकरसिंह सातनकर,आशा उइके मौजूद थी।

देखें पूरा विडियो

https://youtu.be/EO25hROGmy4