लांबी| पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल पर यहां रत्ता खेड़ा गांव में चुनाव प्रचार के दौरान एक कट्टरपंथी सिख नेता के एक रिश्तेदार ने आज जूता फेंक दिया। पुलिस ने बताया कि 40 वर्षीय गुरबचन सिंह ने बादल की ओर कथित तौर पर जूता फेंका, जो पहले तो सुरक्षाकर्मी को लगा और फिर 89 वर्षीय बादल की पगड़ी को छुआ।

मुक्तसर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ध्रुमन एच निम्बाले ने आज बताया कि एक कट्टरपंथी सिख नेता के रिश्तेदार गुरूबचन सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल पर जूता फेंका।निम्बाले ने बताया कि बादल की सुरक्षा में तैनात एक सुरक्षा अधिकारी ने अपने हाथ से जूता रोकने की कोशिश की। ‘‘सुरक्षाकर्मी को लगने के बाद जूता मुख्यमंत्री की पगड़ी को छू गया। इस घटना में बादल को कोई चोट नहीं लगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि यह घटना रत्ता खेड़ा गांव में हुई जहां बादल अपने चुनाव प्रचार के दौरान एक जन सभा में व्यस्त थे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के अपना भाषण पूरा करने के ठीक बाद गुरबचन ने एक जूता उनकी ओर उछाला।

एसएसपी ने बताया कि गुरबचन कट्टरपंथी सिख नेता अमरीक सिंह अजनाला के भाई हैं। ‘‘पंजाब में अपवित्रीकरण की घटनाओं को लेकर वह परेशान नजर आ रहे थे।’’ उन्हें पकड़ा नहीं गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ एक मामला दर्ज किया जाएगा। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले लोगों के एक समूह ने उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के काफिले पर फजीलका जिला स्थित उनके जलालाबाद क्षेत्र में पथराव किया था।