भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी में हुए गैंगरेप केस में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। सिर्फ दो महीने में अदालत ने चारों आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। ये मामला सुर्खियों में छाया रहा जिसके बाद न्याय के लिए मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में की गई थी।

ज्ञात हो की भोपाल में 31 अक्टूबर की शाम को इस गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया था। कोचिंग सेंटर से हबीबगंज जा रही 19 साल की छात्रा के साथ चार लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। छात्रा यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रही थी। उस दौरान गैंगरेप की रिपोर्ट को लेकर पुलिस की भूमिका पर भी कई सवाल उठे थे, पहले केस को फिल्मी मानते हुए पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने से इंकार कर दिया था। जब मामले ने तूल पकड़ जब जाकर शिकायत करने के 24 घंटे बाद केस दर्ज हुआ था। साथ ही मामले में लापरवाही बरतने के लिए कई पुलिसवालों को सस्पेंड भी किया गया था।