दिलीप पाल / आमला – नगर पालिका में स्वीकृत प्रधानमंत्री आवास योजना में लोगो से पैसे की मांग की जा रही है । इस विषय मे पार्षद बसन्त उडुकले ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में स्वीकृत हितग्राहीयो से उच्च अधिकारियों की सह पर नक्से के नाम पर 600 रू प्रति हितग्राही से डरा धमका कर घर घर जाकर बिना रसीद दिये । कथाकथित कम्पनी के नाम से वसूली का खेल चल रहा है । जबकि शासन के निर्देशानुसार किसी भी प्रकार का खर्च हितग्राही को नही देना है । आमला नगर पालिका में शासन की ओर से किसी भी कार्य हेतू अलग से नीति लागू की है जबकि जिले एवं ग्रामीण क्षेत्रो में किसी भी प्रकार का अतिरिक्त व्यय नही हैं नही देने पर योजना में आवास योजना से नाम कट जायेगा। लाभ नही मिलेगा कहा जा रहा हैं पूर्व में भी पार्षदो द्वारा रोक लगवाई थी उसके बावजूद पुनः कार्य प्रारम्भ कर दिया गया वसूली का और लोगो को बिना रसीद दिए पैसे लिए जा रहे है बसन्त उडुकले ने कलेक्टर से जाँच की मांग की है।

इनका कहना है–

प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राहियों को नक्सा बनना है अगर वे स्वयं नक्सा बनाते है तो वो बनना सकते है कोई जोर जबरदस्ती किसी भी हितग्राहियों से पैसे नही लिए जा रहे है पीएमवय ही नक्शा दे रहा है उसके ही पैसे हितग्राहियों की सहमति से लिए जा रहे है ।

( पीसी राय – मुख्य नगर पालिका अधिकारी आमला )