दिलीप पाल / आमला। बीती रात बोरदेही मुलताई रोड पर एक भयानक हादसे में 7 लोगो की मौत हो गई थी जिसमे खेडलीबाज़ार के लोग भी इस हादसे में अपनी जान गवा बैठे थे ।आज पीएम के उपरांत खेडलीबाज़ार में दोनों की अर्थी एक साथ उठी तो गांव का माहौल गमगीन हो गया बच्चे बूढ़े जवानों को इस घटना ने पूरी तरह झकझोर के रख दिया है। मृतकों के परिवार का रो रोकर बुरा हाल था । ज्ञात है कि ब्राह्मणवाड़ा में एक हादसे में घायल हुए लोगो को मदद के लिए रुके थे तभी दूसरीओर से तेज रफ्तार से आ रहे डम्फर ने इन्हें रौंदते हुए पलट गया था ग्रामीणों ने बताया कि रात से ही पूरे गांव में मातम का माहौल छाया हुआ है ।जानकारी के मुताबिक हादसे में ग्राम के सेवा निवृत्त शिक्षक विनायक राव पारखे 70 वर्ष , गोविंद 22 वर्ष ,व शुभम बिहारिया 18 वर्ष हादसे का शिकार हो गए थे जिनका आज पीएम कर गोविंद के शव को पैतृक घर मासोद ले जाया गया है और विनायक पारखे व शुभम बिहारिया को आज ग्राम के श्यमसानघाट पर मुखाग्नि दी गई ।अजय सोलंकी,नीरज सोनी, नितेश मोगरे,राकेश सोने,मयूरेश गोल्डी, कुलदीप बेले,सचिन निरापुरे,पंकज जैन, निशान्त सोनटक्के,देवकी भोरासे,अविनाश हरसुले,गौरव जैन, शैलेश बेले,गगन गिरधर,आकाश पाटिल, जितेंद्र दुर्वे,राजा वादवा,ज्ञानेश बछले, राजा साहू,रोहित सोने,अरविन्द बेले,भावेश मालवीय,संजू राठोर,कपिल निरापुरे,सजेश सिरसाम,सचिन नागले, अजय नायडू,राजेश नायडू,रोशन बेले,सहित सैकड़ों यूवक शामिल थे।