दिलीप पाल / आमला। अब लगता है प्रशासन भी दुर्घटना का ही इंतजार कर रहा था अब प्रशासन की इच्छा भी शायद अब पूरी तो हो ही गई होगी । क्योंकि की कई दिनों से खस्ताहाल सड़क से जूझ रहे आमला के रहवासियों के लिए सड़क जान की दुश्मन बन गई है । कई बार इन खस्ताहाल सड़कों को सुधारने एवं इन सड़कों से उड़ते धूल के गुब्बारों से परेशान नागरिकों ने प्रशासन को अवगत कराया और उसके बाद भी प्रशासन द्वारा कोई सुध नही लेने के कारण समाजसेवियों ने लोगो के स्वास्थ्य पर धूल से पड़ रहे प्रतिकूल प्रभाव के कारण मास्क भी वितरित किया इसके बाद प्रशासन नही जागा जिसके कारण लोगो और समाजसेवियों को सड़क पर उतरना पड़ा और लोगो सड़क के बीच बैठकर आंदोलन करना पड़ा । तब से अब तक प्रशासन की ओर से केवल आश्वासन ही मिला है । प्रशासन की इस उदासीनता के चलते अब लोगो अब अपनी जान जोखिम में डालकर सड़क पर चलना पड़ रहा है जिसका खामियाजा भी उन्हें भुगतना पड़ रहा है और लोग दुर्घटनाओं के शिकार हो रहे है । ऐसी ही एक घटना गुरुवार दोपहर को उपनगरी बोड़खी में हुई जहां सड़क की धूल के कारण सड़क पर कुछ नही दिखने के कारण एक दुर्घटना हो गई है । जिसमे एक बालक ओर एक युवक गभीर रूप घायल हो गए । बताया जाता है कि दोनों में से एक कि हालत बहोत नाजुक बताई जा रही जिसे जिला अस्पताल रैफर किया गया है वैसे अभी तक दोनों घायलों का इलाज जारी है।