दिलीप पाल / आमला । नपा में भाजपा पार्टी के चार पार्षद अपनी ही भाजपा नगर सरकार के खिलाफ सामने आकर बोलने को आतुर हो गए । इसका कारण यह है कि नपा में पाइप लाइन , भर्ती, योजनाओ में अपने हितों के स्वार्थ के चलते जनप्रतिनिधि कार्य कर रहे है । पाईप लाइन में भारी भष्ट्राचार नपा में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की भर्ती में भारी भृष्टाचार किया जा रहा है और तो और पीएम हाउस में हितग्राहियों से छः सौ रुपये लिए जा रहे है । जबकि ऐसा कोई प्रावधान ही नही है ।
भाजपा के पार्षद बसन्त उडुकले, सरस्वती बचले, सुरेखा वराठे, लिखीराम साहू ने आरोप लगाया है कि नपा में मनमाने तौर पर भष्ट्राचार हो रहा है । नपा की भर्ती में भष्ट्राचार किया जा रहा है । अगर जल्द ही जाँच नही की गई तो पार्षद भूखहड़ताल करेगे । नपा के भष्ट्राचार को लेकर पार्षदो ने तहसीलदार को ज्ञापन देकर उच्च स्तरीय जाँच की मांग की है।