सिवनी मालवा। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ का राष्ट्रव्यापी धरना एवं आंदोलन विगत 3 दिनों से जारी है वही दो किसान आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं। 3 दिवस होने के बाद भी ना तो उन किसानों की शासन ने सुध ली ना ही उनकी आज दिनांक तक जांच कराई गई थी। परंतु जैसे ही राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के कार्यकर्ताओं के द्वारा मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम ज्ञापन सौंपा गया ज्ञापन सौंपने के महज चंद मिनटों के बाद ही स्वास्थ्य विभाग के द्वारा धरना स्थल पर डॉक्टर को भेज अनशन कारियों की स्वास्थ्य की जांच कराई गई।

धरना स्थल पर जांच करने आये डॉक्टर सौम्य रघुवंशी ने बताया कि आमरण अनशन पर बैठे दोनों किसानों की शुगर लेवल में कमी आई है, पहली बार ही दोनों किसानों का वजन किया गया है इसलिए भजन के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है। अगली जांच में ही दोनों अनशन कारियों की स्वास्थ्य की सही स्थिति बताई जा सकेगी। ज्ञात हो कि पूरे देश में राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ किसानों की विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन एवं आमरण अनशन कर रहा है।